Best 100+ Shaheed Diwas Par Shayari in Hindi [NEW-2022]

दोस्तों आज 23 मार्च है ठीक इसी दिन हमारे देश के 3 वीर क्रन्तिकारी को फांसी दी गई थी हमारे देश को आज़ाद करवाने में हमारे देश के सभी वीर शहीदों को अपनी जान की बजी लगनी पड़ी थी और आज हम उन्ही वीर क्रन्तिकारी को याद करते हुए उनको नमन करते है आज हम इसी शहीद दिवस पर लिखी कुछ खास शायरी Best 100+ Shaheed Diwas Par Shayari in Hindi [NEW-2022] आपके साथ शेयर कर रहे हैं।

Shaheed Diwas shayari image
Shaheed Diwas shayari image

shaheed diwas shayari

फांसी की सजा जब मिली भगत को
इंसाफ उस दिन सोया था भारत का
बच्चा बच्चा उस दिन फुट फुट कर
रोया था।

Fansi ki saja jab mili bhagat
singh ko insaaf us din soya tha
bharat ka baccha baccha us din
din fut fut kar roya tha.

 

 

 

shahid diwas shayari in Hindi

मैं जला हुआ राख नहीं, अमर दीप हूँ
जो मिट गया वतन पर, मैं वो शहीद हूँ.
Me jala hua rakh nahi, amar
deep hun jo mit gaya vatan
par me wo shaheed hun.

shaheed Diwas Shayari images
shaheed Diwas Shayari images

shaheed diwas shayari in hindi

भगत सिंह था नाम उसका मुख सूरज
से भी प्यारा था तेज झलकता था मुख
मंडल पर भारत माँ का राज दुलारा था।
Bhagat singh tha naam uska
mukh suraj se bhi pyara tha
Tej jhalakta tha mukh mandal
par bharat maa ka raj dulara
tha.

 

 

 

shaheed diwas shayari hindi

ना पूछो जमाने को क्या हमारी कहानी
है हमारी पहचान तो सिर्फ ये है की
हम सिर्फ हिन्दुस्तानी है.

Naa pucho jamane ko kya humari
kahani ha humari pehchan to sirf
ye hai ki hum sirf hindustani ha.

 

shaheed Diwas Shayari images 2022
shaheed Diwas Shayari images 2022

shaheed diwas shayari 2022

जब से बसंती चोला ओढ़ा,देश प्रेम ही
सहारा था अरे दिलो दिमाग पर रहता
सदा ही इंकलाब का नारा था।
Jab se basanti Chola Aodha
desh prem hi sahara tha are
dilo dimag par rehta sada hi
inkalab ka nara tha.

 

 

 

shaheed diwas par shayari

देश के लिए कुछ करने वाले,
सिर्फ बातें करा नहीं करते
चाहे देनी पड़े अपनी जान,
किसी से डरा नहीं करते .
desh ke liye kuch karane
Wale, sirf baten kara nhi
krte, chahe deni pade
apni jaan, kisi se dara
nahin karate.

shahid Diwas Shayari image
shahid Diwas Shayari image

shaheed diwas ki shayari

खून से लतपथ माटी देख दिमाग भगत
का घुमा था और निर्देषों के खून से सनी
उस माटी को भगत सिंह ने चूमा था।

Khun se latpath mati dekh
dimag bhagat ka ghuma tha
aur nirdoshon ke khun se sani
us mati ko bhagat singh ne
chuma tha.

 

 

 

shahid diwas shayari in hindi

जब तुम शहीद हुए थे तो ना जाने कैसे
तुम्हारी माँ सोई होगी,एक बात तो तय है
तुम्हे लगने वाली गोली भी सौ बार रोई होगी.

jab tum shaheed hue the to
na jaane kaise tumhari maa
soi hogi,ek bat to tay hai tumhe
lagane wali goli bhi so bar roi
hogi.

shahid diwas status images
shahid diwas status images

shaheed diwas par shayari in hindi

असहनीय पीड़ा मिली कारागार में आजादी
का कारवां फिर भी रुका नहीं अंग्रेज कोड़े
बरसा – बरसा कर थक गए भारत माँ का
लाल फिर भी झुका नहीं।

Asahniy pida mili karagar me
azadi ka karwan fir bhi ruka ni
Aangrej kode barsa barsa kar
thal gaye bharat maa ka laal
fir bhi jhuka nahi..

 

 

 

 

23 March shaheed diwas shayari

सीनें में ज़ुनून ऑखों में देंशभक्ति की
चमक रखता हुँ दुश्मन के साँसें थम
जाए,आवाज में वो धमक रखता हुँ.

seene mein zunun Ankhon
mein deshbhakti ki chamak
rakhta hun dushman ke
sansen tham jaye,awaj mein
vo dhamak rakhata hun.

shaheed diwas images
shaheed diwas images

shahid diwas par shayari in hindi

लिख रहा हूँ में अंजाम जिसका कल
आगाज आएगा, मेरे लहू का हर एक
कतरा इंकलाब लाएगा। जय हिन्द।

Likh raha hun me Anjam
jiska kal Aagaaj ayega mere
lahu ka har ek katra inkalab
layega, Jay Hind.

 

 

 

 

shahid diwas par shayari

भारत मां तेरी जय हो हमेशा इसलिए
तिरंगे में लिपटकर घर को जाता हूं,
फौजी हू ना खुद की मां नहीं दिखती
जब भारत मां तेरी ओर दुश्मन कदम
बढ़ाता है.

bharat maa teri jay ho hmesha
isliye tirange mein lipatakar ghar
ko jata hun, Fauji hu na khud ki
maa nhi dikhati jab bharat maa
teri or dushman kadam badhta hai.

shaheed diwas images 2022
shaheed diwas images 2022

shahid diwas shayari 2022

में रहूं या न रहूं पर ये वादा है मेरा
तुझसे मेरे बाद वतन पर मरने वालो
का सैलाब आएगा।
Me rahun yaa na rahun
par ye vada hai mera tujhse
mere baad vatan par marne
walo ka selab aayega.

 

 

 

shaheed diwas status shayari

फांसी पर चढ़ गए थे,इतिहास गढ़ गए थे.
ऐसे थे तीनो शूरवीर,जो डर के आगे बढ़
गए थे.
Fansi par chad gaye the itihas
gad gaye the ese the tino shurveer
jo dar ke aage bad gaye the.

shaheed diwas images hd
shaheed diwas images hd

23 मार्च शहीद दिवस शायरी

शहीदों को याद करने का आया दिन
भर लेते है उनकी यादों से अपना मन
देश की खातिर अगर हम कुछ कर पाए
तो इनकी तरह धन्य होगा हमारा जीवन.

Shahidon ko yaad karne ka aaya
din bhar lete hai unki yadon se
apna man desh ki khatir agar
hum kuch kar paye to inki tarha
dhany hoga humara jiwan.

 

 

 

23 मार्च शहीद दिवस पर शायरी

मातृभूमि को सर्वस्व देकर अपनी ही धुन
में ऐंठा था चाहता तो सिर झुका सकता था
पर सरफ़रोशी की तमन्ना वो दिल में लेकर
बैठा था।

Matrbhumi ko sarvasv dekar
apni hi dhun me entha tha
chahta to sir jhuka sakta tha
par sarfaroshi ki tamnna wo
dil me lekar betha tha.

shaheed diwas images download
shaheed diwas images download

शहीद दिवस शायरी

लहू का रंग ही उसका हिन्दुस्तानी था
खुद में इन्कलाब की इक चिंगारी था
फांसी तो सिर्फ इक बहाना था उसका
असल में उसे क्रान्ति की आग लगाना था

Lahu ka rang hi uska hindustani
tha khud me inkalab ki ik chingari
tha fansi to sirf ik bahana tha uska
asal me us kiranti ki aag lagana tha..

 

 

 

शहीद दिवस शायरी इन हिंदी

कैसा यह जमाना है जो उन वीरों को
आज भूल गया आजादी के लिए जो
भगत सिंह फांसी पर था झूल गया।
Kesa yah jamana hai jo
un veeron ko aaj bhul gaya
ajadi ke liye jo bhagat singh
fansi par tha jhul gaya.

shaheed diwas 2022 images
shaheed diwas 2022 images

शहीद दिवस शायरी 2022

आओ झुक कर सलाम करे उनको,
जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है,
खुशनसीब होता है वो खून, जो देश
के काम आता है,

Aao jhik kar salam kare unko
jinke hisse me ye mukam aata
hai khushnasib hota ha wo khun
jo desh ke kam aata ha.

 

 

 

शहीद दिवस पर शायरी

नशे ने घेरा उन गलियारों को जिसमे कभी
भगत सिंह घुमा था आत्मा छलनी होती होगी
उनकी सोच सोच कर क्या इस आजादी के
लिए फांसी का फंदा चूमा था।

Nashe ne ghera un galtiyon ko
jisme kabhi bhagat singh ghuma
tha Aatm chhali hoti hogi unki
soch kar kya is azadi ke liye fansi
ka fanda chuma tha.

23 March shaheed diwas image
23 March shaheed diwas image

शहीद दिवस 23 मार्च शायरी

भारत के उन शहीदों के सम्मान में लगेंगे
हर वर्ष मेले जो इस देश की खातिर अपने
लहू की हर बूंद से खेले.

Bharat ke un shahidon ke samman
me lagenge har varsh mele jo is
desh ki khatir apne lahu ki har
bund se khele.

 

 

 

शहीद दिवस की शायरी

सीनें में जुनूं आँखों में देशभक्ति की
चमक रखता हूँ दुश्मन की सांसे थम
जाएँ आवाज में वो धमक रखता हूँ.

Seene me junun ankhon me
deshbhakti ki chamak rakhta
hun dushman ki sanse tham
jayen awaj me wo dhamak
Rakhta hun.

23 March shaheed diwas images download
23 March shaheed diwas images download

शहीद दिवस पर शायरी हिंदी में

मुझे तन चाहिए, ना धन चाहिए
बस अमन से भरा यह वतन चाहिए
जब तक जिंदा रहूं, इस मातृ-भूमि के लिए
और जब मरूं तो तिरंगा ही कफन चाहिए.

Mujhe tan chahiye naa dhan
chahiye bas aman se bhara yah
vatan chahiye jab tak zinda rahun
is matr-bhumi ke liye aur jab maru
to tiranga hi kafan chahiye.

 

 

 

शहीद दिवस पर शायरी हिंदी

मैं मुल्क की हिफाजत करूँगा,ये मुल्क
मेरी जान है,इसकी रक्षा के लिए, मेरा
दिल और मेरी जां कुर्बान हैं.
Me mulk ki hifajat karunga ye
mulk meri jaan ha iski raksha
ke liye mera dil aur meri jaan
kurban hai.

23 March 1931 shaheed diwas images
23 March 1931 shaheed diwas images

शहीद दिवस पर स्टेटस

मरने के बाद भी जिसके नाम मे जान हैं,
ऐसे जाबाज़ शहीद हमारे भारत की शान है
देश के उन वीर जवानों को सलाम जय हिन्द.

Marne ke bad bhi jiske naam
me jaan ha ese jabaj shahid
humare bharat ki shan hai
desh ke un veer jawano ko
salam, Jay Hind.

 

 

 

23 मार्च शहीद दिवस स्टेटस

खूब बहती है अमन की गंगा बहने दो
मत फैलाओ देश में दंगा रहने दो
लाल हरे रंग में ना बाटों हमको
मेरे छत एक तिरंगा रहने दो.

Khub bahati ha aman ki ganga
bahane do mat felaao desh me
dang rehne do laal hare rang
me naa baton humako mere
chhat ek tiranga rehne do.

shahid diwas 2022 images download
shahid diwas 2022 images download

शहीद जवान श्रद्धांजलि शायरी

गुलाम बने इस देश को आजाद तुमने कराया है
सुरक्षित जीवन देकर तुमने कर्ज अपना चुकाया है
दिल से तुमको नमन हैं करते ये आजाद वतन जो
दिलाया.

Gulam bane is desh ko azad
tumne karaya hai surakshit jeevan
dekar tumne karj apna chukaaya
hai dil se tumko naman ha karte
ye Aazadi vatan jo dilaaya.

 

 

 

शहीद जवान शायरी इन हिंदी

जमाने भर में मिलते हैं आशिक कई,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं
होता,नोटों में भी लिपट कर, सोने में
सिमटकर मरे हैं कई,मगर तिरंगे से
खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता।

jamane bhar me milate hain
ashq kai, magar vatan se
khubsurat koi sanam nhi
hota,noton me bhi lipat kar,
sone mein simatakar mare ha
kai,magar tirange se khubasurat
koi kafan nahin hota.

शहीद जवान श्रद्धांजलि फोटो
शहीद जवान श्रद्धांजलि फोटो

शहीद जवान शायरी इन मराठी

चलो फिर से आज वो नजारा याद कर ले
शहीदों के दिल में थी जो ज्वाला वो याद कर ले
जिसमे बहकर आजादी पहुंची थी किनारे पे
देशभक्तों के खून की वो धरा याद कर ले.

chalo phir se aaj vo najara
yaad kar le shaheedon ke
dil mein thi jo jvaala vo yaad
kar le jisame bahakar Aazadi
pahunchi thi kinare pe desh
bhakton ke khun ke vo dhara
yaad kar le.

 

 

 

शहीद को श्रद्धांजलि शायरी

लड़े वो वीर जवानों की तरह
ठंडा खून भी फौलाद हुआ
मरते – मरते भी कई मार गिराए
तभी तो देश आजाद हुआ.
Lade wo veer jawano ki tarha
thanda khun bhi folad hua
marte marte bhi kai mar giraye
tabhi to desh ajad hua.

photo of rajguru sukhdev and bhagat singh
photo of rajguru sukhdev and bhagat singh

शहीद पर शायरी

कभी कड़ाके की ठंड में ठिठुर के देखना
कभी तपती धुप में चल के देखना
कैसे होती है हिफाजत अपने देश की
जरा सरहद पर जाकर देखना.

kabhi kadake ki thand me
thithur ke dekhna kabhi tapati
dhup me chal ke dekhna kaise
hoti hai hifaajat apane desh ki
jara sarahad par jakr dekhna.

 

 

 

शहीद सैनिक पर शायरी

खुशबू बन के महका करेंगे हम लहलहाती
हर फसलो में, साँस बन के गुनगुनायेंगे
आने वाली हर नस्लों में.
khushabu ban ke mahaka
karenge ham lahalahati har
phasalo me sans ban ke
gunagunayenge Aane vali
har naslon mein.

photo of rajguru sukhdev and bhagat singh images
photo of rajguru sukhdev and bhagat singh images

शहीद दिवस पर सुविचार

अपनी आज़ादी को हम हरगिज़ भुला
नहीं सकते सर कटा सकते है लकिन
सर झुका नहीं सकते जय हिन्द.

apni azadi ko hum haragiz
bhula nhi sakte sar kata skte
hai lekin sar jhuka nhi sakte
jay hind jay bharat.

 

 

 

शहीद के लिए दो शब्द

इतनी सी बात हवाओ को बताए रखना
रोशनी होगी चिरागों को जलाए रखना
लहू देकर की है जिसकी हिफाजत
हमने ऐसे तिरंगे को हमेशा अपने
दिल में बसाए रखना.

itni si baat hawao ko bataye
rakhna roshani hogi chiragon
ko jalaye rakhna lahu dekar
ki hai jiski hifajat hamane aise
tirange ko hamesha apne dil
mein basaye rakhna.

martyrs day images
martyrs day images

वीर शहीदों के लिए शायरी

तिरंगे में लिपटी लाशो में दो थे नाम,
एक था अली तो एक था श्याम
हिंदुस्तान-ए-मोहब्बत में दोनों ने दी
थी जान,फिर भी हमने उन्हें बांट दिया,
कहकर हिंदू और मुसलमान।

tirange me lipati lasho me
do the naam, ek tha ali to
ek tha shyam hindustan-e-
mohabbat me dono ne di
thi jaan,phir bhi hamane
unhe bant diya, kahakar
hindu aur musalman..

 

 

 

शहीद जवान श्रद्धांजलि

ऐ वतन मेरे वतन आबाद रहे तू,
मैं जहाँ रहूँ जहाँ में याद रहे तू,
तू ही मेरी मंजिल है पहचान तुझी से,
पहुँचूं मैं जहाँ भी मेरी बुनियाद रहे तू.

e-vatan mere vatan abad rhe tu,
me jahan rahun jahan me yaad
rahe tu, tu hi meri manjil hai
pahachan tujhi se, pahunchoon
me jahan bhi meri buniyad rhe tu.

शहीद दिवस फोटो
शहीद दिवस फोटो

शहीदों की शायरी

मुझे तन चाहिए , ना धन चाहिए
बस अमन से भरा यह वतन चाहिए
जब तक जिन्दा रहूं,इस मातृ-भूमि के लिए
और जब मरू तो तिरंगा कफ़न चाहिये.

mujhe tan chaahiye na
dhan chaahye bas aman
se bhara yah vatan chaahye
jab tak jinda rahun,is maatr-
bhomi ke liye aur jab maru
to tiranga kafan chaahiye.

 

 

 

शहीद दिवस स्टेटस

वतन के लिए जो फना हो गए हैं
तिरंगा उन्ही की सुनाता कहानी है
किया दिल से हर फैसला ज़िन्दगी का
कोई बात समझी,न बुझी, न जानी है

vatan ke liye jo fana ho gaye
ha tiranga unhi ki sunta kahani
hai kiya dil se har phaisala
zindagi ka koi bat samajhi,
na bujhi, na jani hai.

23 March shaheed diwas image 2022
23 March shaheed diwas image 2022

shahid diwas shayari

आज़ादी छीनी है साहेब हाथ फैला
कर मांगी नही ,इतिहास लिखा गया है
वीरों के रक्त से ये फ़क़त स्याही नहीं ।।

azadi chini hai saheb hath
phaila kar mangi nahi itihas
likha gaya hai veeron ke rakt
se ye faqat syaahi nahin.

 

 

 

shahid diwas status

गुलाम बने इस देश को आजाद तुमने
कराया है सुरक्षित जीवन देकर तुमने
कर्ज अपना चुकाया है
gulaam bane is desh ko Azad
tumne karaya hai surakshit
jeevan dekar tumne karj apna
chukaaya hai.

 

 

shahid diwas whatsapp status

सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है
देखते है जोर कितना बाजु – ए – क़ातिल
में है देश के शहीदों को नमन,
sarfaroshi ki tamanna ab
hamare dil me hai dekhte
hai jor kitana baaju-e-katil
me ha desh ke shahidon
ko naman.

 

 

 

shaheed diwas status for whatsapp

अपनी आजादी को हम हरगिज भूल सकते
नहीं है सर कटा सकते है लेकिन सर झुका
सकते नहीं | देश के शहीदों को नमन.
apni Azadi ko hum haragij
bhul skate nahi hai sar kata
sakate hai lekin sar jhuka
sakate ni, desh ke shaheedon
ko naman.

 

 

shaheed diwas quotes

मन को खुद ही मगन कर लो कभी कभी
शहीदों को भी नमन कर लो | देश के
शहीदों को नमन.
man ko khud hi magan kar
lo kabhi kabhi shaheedon ko
bhi naman kar lo, desh ke
shaheedon ko naman.

 

 

shaheed diwas quotes in hindi

जशन आजादी का मुबारक हो देश वालो को
फंदे से मोहब्बत थी हम वतन के मतवालों को
| देश के शहीदों को नमन।
jashan Ajadi ka mubarak ho
desh walo ko fande se mohabbat
thi ham vatan ke matavalon ko,
desh ke shaheedon ko naman.

 

 

shahido ke liye shayari

ज़माने भर में मिलते है आशिक़ कई मगर वतन से
खूबसूरत कोई सनम नहीं होता,नोटों में भी लिपट
कर सोने में सिमट कर मरे है कई मगर तिरंगे से
खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता। देश के शहीद
को नमन।

 

 

bhagat singh shaheed diwas

यदि प्रेरड़ा शहीदों से नहीं लेंगे ये आज़ादी
ढलती हुई साँझ हो जाएगी और पूजे न जाये
वीर तो सच कहता हूँ की नौजवानी बोझ हो
जाएगी देश के शहीदों को नमन।

 

 

shaheed diwas 2022

इतनी सी बात हवाओ को बताये रखना
रौशनी होगी चिरागों को जलाए रखना लहू
देकर की है जिसकी हिफाज़त हमने ऐसे
तिरंगे को हमेशा अपने दिल में बसाए रखना।

 

 

Bhagat singh shayari 

चलो फिर से आज वो नजारा याद कर ले
शहीदों के दिल में थी जो ज्वाला वो याद
कर ले जिसमे बहकर आजादी पहुची थी
किनारे पे देशभगतो के खून की वो धरा
याद कर ले।

 

 

वतन वालो वतन ना बेच देना ये धरती
ये चमन ना बेच देना शहीदों ने जान दी है
वतन के वास्ते शहीदों के कफ़न ना बेच देना।

 

 

जब तुम शहीद हुए थे तो ना जाने कैसे तुम्हारी
माँ सोई होगी एक बात तो तय है तुम्हे लगने वाली
गोली भी सौ बार रोई होगी। देश शहीदों को नमन।

 

 

सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमरे दिल
में है देखना है ज़ोर कितना बाजु – ए
-कातिल में है।

 

 

 

शहीद दिवस?

आज हमारे देश के वो तीन वीरों को फांसी दी गई थी जिन्होंने देश की आज़ादी के लिए अपनी जान को निछावर कर दिया और आज सभी वीरो की शहादत से हमारे देश में आज़ादी की लेहेर है ऐसे ही कुछ वीर क्रन्तिकारी को आज के दिन फांसी दी गई थी और वह अपने भारत देश के लिए हस्ते हस्ते फांसी पे झूल गए थे।
 
मित्रों 23 मार्च वर्ष 1931 में भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान क्रांतिकारी भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को फांसी दी गई थी वैसे तो उनको 24 मार्च को फांसी होनी थी लेकिन अंग्रेजों ने इनके साथ और आंदोलन करने वाले सभी लोग भरी संख्या में एक साथ होना शुरू हो गया था इस वजह से अंग्रेजों ने उनको एक दिन पहले यानि 23 मार्च को ही फांसी दे दी थी उनकी फांसी से भी सरे देश भर में भरी संख्या में आंदोलन होना शुरू हो गए थे। 
 
 

23 मार्च शहीद दिवस?

देश की आज़ादी के लिए वह वीर क्रन्तिकारी इतनी छोटी सी उम्र में हस्ते – हस्ते फांसी के फंदे पर झूल गए थे आज के समय में जहा के युवा को अपने देश के बारे में कुछ पता तक नहीं होता उस समय में इतनी छोटी उम्र में इन सभी ने अपने जीवन को अपने देश की आज़ादी के नाम कुर्बान कर दिया था इनका नाम आज भी वीरों के नाम में लिया जाता है। 
 
हम उम्मीद करते हैं आपको हमारे द्वारा शेयर की हुई आज की शहीद दिवस की शायरी पसंद आई होगी अगर आपको हमारे द्वारा शेयर की हुई आज की शायरी पसंद आई है तो हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके ज़रूर बताएं की आपको हमारी शायरी किसी लगी है और ये भी बताएं की आपको सभी शायरी में से कोनसी शायरी सबसे ज्यादा पसंद आई है यह भी हमे एक कमेंट करके ज़रूर बातएं ताकि हम आपके लिए इसी तरह की शायरी आपके लिए लेके आते रहे। 
धन्यवाद।